Srinagar Police Arrested 19 People Who Protest And Stone Pelting On 25th May Out Of Yasin Maliks House


Police Arrested 19 Accused of Stone pelting: रविवार यानि कि 25 मई को कश्मीर के अलगाववादी नेता और जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट के मुखिया यासीन मलिक (Separastist Leader and JKLF Chief Yasin Malik) को नई दिल्ली की विशेष अदालत (Special Court of New Delhi) ने उम्र कैद की सजा का ऐलान कर दिया था. उस समय यासीन मलिक के घर यानि कि श्रीनगर में पुलिस ने कड़ी सुरक्षा व्यवस्था कर दी थी. जैसे ही यासीन मलिक (Yasin Malik) को सजा का ऐलान हुआ उसके घर के बाहर एक भीड़ इकट्ठा हो गई और सुरक्षाबलों पर पथराव करने लगी. हालांकि पुलिस ने आंसू गैस (Tear Gas) के गोले दागकर भीड़ को तितर-बितर कर दिया और स्थिति पर काबू पा लिया लेकिन इस दौरान भीड़ से पत्थरबाजी करने वालों को पुलिस ने चिन्हित कर लिया था. आज श्रीनगर पुलिस ने 25 मई को पत्थरबाजी की घटना में शामिल 19 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. 
इन आरोपियों ने 25 मई को अलगाववादी नेता यासीन मलिक को सजा सुनाए जाने के बाद मलिक के घर के बाहर हंगामा करने की कोशिश की थी. सुरक्षाबलों को पहले से इस बात का अंदेशा था और वो अलर्ट मोड में थे जिसकी वजह से ये पत्थरबाज किसी अप्रिय घटना को अंजाम नहीं दे पाए. गिरफ्तार किए गए इन 19 लोगों पर आरोप है कि ये यासीन मलिक के घर के सामने खड़े होकर देश विरोधी नारे लगा रहे थे, सुरक्षा बलों पर पत्थर चला रहे थे और वहां की शांति भंग करने की कोशिश कर रहे थे. 
आरोपियों पर दर्ज होगा पीएसए के तहत मुकदमारविवार को जम्मू-कश्मीर पुलिस ने इन आरोपियों की शिनाख्त कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तारी के बाद श्रीनगर पुलिस ने मीडिया से बातचीत में बताया कि इन आरोपियों पर पत्थरबाजी और देश विरोधी नारेबाजी का आरोप है. ऐसे में इन आरोपियों के खिलाफ जन सुरक्षा कानून (PSA) के तहत मामला दर्ज किया जाएगा. पुलिस ने स्थानीय युवाओं से इस बात की भी अपील की है कि वो ऐसी देश विरोधी गतिविधियों में शामिल ना हों. अगर वो ऐसे देश विरोधी एजेंडा में पकड़े जाएंगे तो उनका भविष्य खराब होगा उनका करियर खराब होगा उनके माता-पिता को तमाम तरह की परेशानियों का सामना करना होगा.
यासीन मलिक को दोहरे मामले में सुनाई गई थी उम्रकैद की सजायासीन मलिक की सजा के अगले दिन यानि कि 26 मई को ही श्रीनगर पुलिस ने 10 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था. आपको बता दें कि पिछले सप्ताह रविवार यानि कि 25 मई को नई दिल्ली की स्पेशल कोर्ट में कश्मीर के अलगाववादी नेता यासीन मलिक को टेरर फंडिंग मामले में दोहरी उम्रकैद की सजा सुनाई है. सजा सुनाए जाने के बाद श्रीनगर के मईसूमा इलाके में जहां यासीन मलिक का घर है वहां पर उनके समर्थकों ने हंगामा करने की कोशिश की थी लेकिन सुरक्षाबलों ने आंसूगैस के गोले छोड़कर स्थिति पर काबू कर लिया था. 
यह भी पढ़ेंः
Exclusive: जिसे दी गाली, क्या उसके लिए बजाएंगे ताली? हार्दिक पटेल ने किया ये खुलासा, BJP में जाने को लेकर दिया जवाब
Nupur Sharma: बीजेपी प्रवक्ता नुपुर शर्मा के खिलाफ मुंबई में FIR दर्ज, पैगम्बर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी करने का आरोप



Source link

Related Articles

Stay Connected

1,271FansLike
1FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles