Rajya Sabha Candidates In Congress Name Of These Leaders Can Be Stamped ANN


Suspense In Congress Over Rajya Sabha Candidates: राज्य सभा चुनाव के लिए मंगलवार को अधिसूचना जारी हो गई थी और नामांकन का सिलसिला भी शुरू हो गया है. लेकिन कांग्रेस में अभी भी उम्मीदवारों को लेकर सस्पेंस बरकरार है. हालांकि, कई नामों को लेकर कयास भी लगाए जा रहे हैं. एक तरफ जहां कपिल सिब्बल (Kapil Sibal) ने कांग्रेस का दामन छोड़ समाजवादी पार्टी के समर्थन से निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर नामांकन दाखिल कर दिया तो वहीं कांग्रेस ने अब तक अपने उम्मीदवारों के नामों का एलान तक नहीं किया है. 
सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस उम्मीदवारों (Congress Candidates) को लेकर शनिवार तक फैसला हो सकता है. सूत्रों के मुताबिक अभी तक एक नाम पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश (Former Union Minister Jairam Ramesh) का औपचारिक तौर पर तय कर कर्नाटक इकाई को राज्य से उनको राज्यसभा भेजे जाने के फैसले की जानकारी दी गई है. लेकिन बाकी नामों पर अभी तक फैसला नहीं हुआ है. वहीं, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी इसे लेकर जल्द ही फैसला ले सकती हैं. 
इन कांग्रेस नेताओं के नाम पर लग सकती है मुहर 
सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम, पार्टी महासचिव अजय माकन, महासचिव और मीडिया प्रभारी रणदीप सुरजेवाला, राज्यसभा में पूर्व विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद, राजस्थान के पूर्व सांसद भंवर जितेन्द्र सिंह, पूर्व सांसद बद्री राम जाखड, कुलदीप बिश्नोई, अजीत कुमार, सुबोध कांत सहाय जैसे नेताओं को राज्यसभा उम्मीदवार बना सकती है.  
संजय निरूपम की कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से खास मुलाकात 
कांग्रेस ने महाराष्ट्र से भी अपने उम्मीदवार पर अभी फैसला नहीं किया है. सूत्रों के मुताबिक मुकुल वासनिक, अविनाश पांडे, गुलाम नबी आजाद, मिलिंद देवड़ा में से किसी को महाराष्ट्र से उम्मीदवार बनाया जा सकता है. दिलचस्प बात ये कि इन सब नामों के बीच मंगलवार को संजय निरूपम ने भी कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी से दिल्ली आकर मुलाकात की. 
कपिल सिब्बल के कांग्रेस छोड़ने से बदल सकते हैं फैसले 
चर्चा इस बात की थी कि G23 में शामिल गुलाम नबी आजाद (Ghulam Nabi Azad) और आनंद शर्मा (Anand Sharma) दोनों को ही एक बार फिर से राज्यसभा भेजा जा सकता है लेकिन, कपिल सिब्बल (Kapil Sibal) के कांग्रेस छोड़ सपा के समर्थन से नामांकन दाखिल करने की वजह से इसपर असर पड़ सकता है. वहीं, राजस्थान से गुलाम नबी आजाद को राज्यसभा भेजे जाने के विचार से राजस्थान कांग्रेस (Rajasthan Congress) में खासी नाराजगी है. 
ये भी पढ़ें- 
Jammu-Kashmir: आतंकियों को WiFi Hot-Spot देकर की जा रही थी मदद, श्रीनगर पुलिस ने संदिग्धों से की पूछताछ 
Delhi News: छतरपुर में एलपीजी लीकेज से ब्लास्ट में बिल्डिंग का दो फ्लोर क्षतिग्रस्त, तीन लोग घायल



Source link

Related Articles

Stay Connected

1,271FansLike
1FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles