PM Modi held meeting with BJP ruled states Chief Ministers discussed on Mission 400 for upcoming 2024 Lok Sabha Election



PM Modi Meeting With BJP-Ruled CMs: भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अधिवेशन के समापन के बाद रविवार (18 फरवरी) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत मंडपम में ही पार्टी शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों और उपमुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की. उन सभी के साथ जनकल्याणकारी योजनाओं, लाभार्थियों से संपर्क अभियान की प्रगति और लोकसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर अहम चर्चा भी की. 
सूत्रों के मुताबिक, पार्टी के मुख्यमंत्री परिषद की बैठक में प्रधानमंत्री मोदी ने शुरुआत में ही यह कह दिया कि उन्हें जो बोलना था, वो अपने समापन भाषण (राष्ट्रीय अधिवेशन में ) में बोल चुके हैं. मुख्यमंत्रियों और उपमुख्यमंत्रियों के साथ बैठक में पीएम मोदी का ज्यादा फोकस मुख्यमंत्रियों की बातें सुनने पर ही रहा.
बैठक में मुख्यमंत्रियों ने अपने-अपने राज्य में लोकसभा चुनाव की तैयारियों की जानकारी दी. वहीं, लाभार्थियों से संपर्क और गांव चलो अभियान सहित चलाए जा रहे कई अन्य अभियानों की प्रगति के बारे में भी अवगत कराया.  
माणिक साहा ने पीएम को कराया ‘ऐप व्यवस्था’ से अवगत
प्रधानमंत्री मोदी ने कुछ मुख्यमंत्रियों से कुछ जानकारी भी ली. बीजेपी शासित किसी भी राज्य की ओर से उठाए गए अच्छे कदमों के बारे में सभी राज्यों को जानकारी देने की स्थापित परंपरा के मुताबिक, त्रिपुरा के मुख्यमंत्री माणिक साहा ने शिकायत निवारण को लेकर राज्य सरकार की ऐप व्यवस्था के बारे में बताया. 
पीएम मोदी की अध्यक्षता में हुई बीजेपी मुख्यमंत्री परिषद की बैठक में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, अमित शाह और राजनाथ सिंह आद‍ि प्रमुख रूप से मौजूद रहे.  
‘राष्ट्र का संकल्प लेकर निकला व्यक्ति हूं’ 
उधर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्‍ट्रीय अध‍िवेशन के दौरान कहा, ”मैं बीजेपी सरकार का तीसरा कार्यकाल सत्ता भोग के लिए नहीं मांग रहा हूं. मैं राष्ट्र का संकल्प लेकर निकला हुआ व्यक्ति हूं. अगर मैं अपने घर की चिंता करता तो आज करोड़ों गरीबों के घर नहीं बन पाते. मैं देश के करोड़ों बच्चों के भविष्य के लिए जीता हूं.”
देश के युवाओं, महिलाओं और गरीबों के सपने और संकल्प को ‘मोदी का संकल्प’ बताते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि वह इस संकल्प की पूर्ति के लिए ही दिन-रात एक कर रहे हैं. उन्होंने यह भी कहा क‍ि एनडीए को 400 पार करने के लिए बीजपी को 370 के मील का पत्थर पार करना ही होगा.
यह भी पढ़ें: क्या कमलनाथ छोड़ेंगे कांग्रेस? मुलाकात के बाद करीबी नेता सज्जन सिंह वर्मा ने किया ये दावा



Source link

Related Articles

Stay Connected

1,271FansLike
1FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles