Pakistani Woman Seema Haider News What Questions Did ATS Ask Her About Love Story With Sachin Meena


Seema Haider ATS Questioning: पड़ोसी देश पाकिस्तान से प्यार के चक्कर में भारत आई सीमा हैदर (Seema Haider) इन दिनों हर काफी चर्चा में है. भारत के सचिन मीणा (Sachin Meena) नाम के लड़के से सीमा को पबजी गेम खेलते-खेलते इस कदर प्यार हुआ कि उसने अपने पति को छोड़ चारों बच्चों को लेकर अपने देश की सीमा लांघ दी. 
सचिन की सीमा नेपाल के रास्ते भारत आई. उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में सचिन के साथ रहने लगी. लोकल पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ कर चुकी है. इसके बाद यूपी एटीएस (ATS) की टीम ने तलब किया और कई सवाल किए गए. इसी सिलसिले में एबीपी न्यूज़ ने सीमा से बातचीत की और जाना की उनसे क्या कुछ पूछा गया? 
जवाब देते हुए सीमा हैदर ने बताया, “मुझसे पूछताछ की गई. हर छोटी बड़ी चीज. हंसने, रोने से लेकर पाकिस्तान में कैसे रही, कहां तक पढ़ी. जिंदगी में मैंने जो कुछ भी किया वह सब बताया. छोटी-छोटी बात गहराई से पूछी गई और हर बात पर जोर दिया गया था. पासपोर्ट और शिनाख्ती कार्ड पर डेट ऑफ बर्थ अलग होने को लेकर भी सवाल किए गए थे.” 
दो अलग-अलग उम्र होने पर सीमा का जवाब 
सीमा हैदर ने बताया कि उनकी उम्र 2 कार्ड में अलग-अलग लिखवाई गई. यह गलत है. मेरी आईडी में 6 साल कम उम्र मेरे पिता ने कम लिखवाई लेकिन हर कोई अपनी उम्र कम बताता है. मेरी पासपोर्ट के हिसाब से उम्र 22 साल है लेकिन असलियत में मेरी उम्र 27 साल है. 
भारत में किसी और को संपर्क करने पर सवाल 
उनसे पूछा गया कि क्या उन्होंने सचिन के अलावा भारत में और लोगों से संपर्क करने की कोशिश की थी. इस पर सीमा ने जवाब दिया कि उन्होंने किसी को रिक्वेस्ट नहीं भेजी. जेल जाने से पहले सचिन ही मेरा दोस्त था. मेरी सारी आईडी उनके पास है. ये सभी खाते प्राइवेट थे. जब मैं जेल से आई तब मैंने उसको पब्लिक अकाउंट किया. मैंने किसी को संपर्क करने की कोशिश नहीं की, किसी सेना के अधिकारी को संपर्क नहीं किया. 
नेपाल के होटल को लेकर भी पूछा गया
सीमा से पूछा गया कि नेपाल में जिस होटल में रुकी वहां आपका कोई रिकॉर्ड नहीं है? इसपर सीमा ने कहा कि उनसे होटल वालों ने उनका नाम नहीं पूछा था क्योंकि सचिन उससे पहले वहां पहुंच चुका था. उनसे यह भी पूछा गया कि क्या उन्हें अपने मुल्क वापस जाने से डर लगता है. 
इसपर उन्होंने कहा “अगर ऐसा होगा तो मेरे साथ गलत होगा क्योंकि मेरा कोई भविष्य नहीं है पाकिस्तान में. वहां गैरत के नाम पर लोगों को मार दिया जाता है. मैं बलोच कबीले से हूं मुझे तो छोड़ेंगे ही नहीं. इससे पहले भी सीमा कई बार कह चुकी हैं कि वह मर जाएंगी लेकिन पाक नहीं जाएंगी. 
ये भी पढ़ें: 
Manipur Violence: हंगामे की भेंट चढ़ी संसद के दोनों सदनों की कार्यवाही, सरकार बोली- चर्चा को तैयार, पीएम के बयान पर अड़ा विपक्ष



Source link

Related Articles

Stay Connected

1,271FansLike
1FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles