Nawab Malik Vs Devendra Fadnavis How Controversy Started With Aryan Khan Reached Devendra Fadnavis?


Aryan Khan Drugs Case: शाहरुख खान के बेटे आर्यन से शुरू हुआ ड्रग्स पार्टी विवाद, अब महाराष्ट्र की सियासत में महाभारत की शक्ल ले चुका है. नवाब मलिक जो पहले समीर वानखेडे पर हमलावर थे, अब उनके निशाने पर आ गए पूर्व सीएम देवेंद्र फणडवीस. सोमवार को 8वीं प्रेस कॉन्फ्रेंस कर नवाब ने कई आरोप फडणवीस पर लगाए. इसके बाद मंगलवार को 9वीं प्रेस कॉन्फ्रेंस में भी आरोपों का सिलसिला जारी रखा. आकिर क्या है नवाब मलिक बनाम देवेंद्र फडणवीस की लड़ाई का ये नया एपिसोड, यहां समझते हैं. महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस व उनकी पत्नी की दो तस्वीर और एक वीडियो ने महाराष्ट्र की सियासत में बड़ा बवाल खड़ा कर दिया. नवाब मलिक ने एक म्यूजिक वीडियो भी जारी किया. दावा है कि, इस वीडियो को फाइनेंस करने वाला और कोई नहीं, जयदीप राणा था. वो जयदीप राणा जिसे NCB ने ड्रग्स केस में पकड़ा है. इन्हीं तस्वीरों के आधार पर नवाब मलिक देवेंद्र फडणवीस पर ड्रग्स गैंग्स में शामिल होने के आरोप लगाए. तो अपना और पत्नी का नाम ड्रग्स रैकेट से जोड़ने से तिलमिलाए देवेंद्र फडणवीस ने नवाब मलिक का अंडरवर्ल्ड से रिश्ता बता दिया. नवाब मलिक यहीं नहीं रुके, उन्होंने कुछ और बड़े चेहरों को भी ड्रग्स गैंग का किरदार बता दिया. देवेंद्र फडणवीस, उनकी पत्नी अमृता फडणवीस के अलावा, नवाब मलिक ने महाराष्ट्र के पूर्व वित्त मंत्री मुनगंटीवार और देवेंद्र फडणवीस के साथ उद्धव ठाकरे के भी करीबी नीरज गुंडे को भी आड़े हाथ लिया. समीर वानखेड़े को धर्म और जाति पर घेराएनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेडे पर ड्रग्स पर कार्रवाई की आड़ में वसूली और नौकरी पाने के लिए गलत जानकारी देने के आरोपों से घिरे हैं. ऐसे में अब समीर वानखेड़े अपनी बेगुनाही साबित करने की हर कोशिश कर रहे हैं. धर्म और जाति को लेकर लग रहे आरोपों के सीधे किसी को जवाब देने की बजाय समीर वानखेड़े SC-ST आयोग की ही शरण में पहुंच गए. वानखेड़े ने आयोग के अध्यक्ष विजय सांपला को सबूत सौंपे. 1995 और 2008 का जाति प्रमाण पत्र दिया जिसके मुताबिक वो हिंदू हैं और महार जाति से आते हैं. इसके अलावा वानखेड़े ने पहले बच्चे का जाति प्रमाण पत्र सौंपा. साथ ही स्पेशल मैरिज एक्ट के तहत हुई पहली शादी और तलाक से जुड़े दस्तावेज सौंपे.समीर वानखेड़े ने जो सबूत सौंपे उससे फिलहाल अनुसूचित जाति आयोग संतुष्ट दिख रहा है. NCP नेता और महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक ने वानखेडे की जाति, धर्म और नौकरी पर निकाहनामा जारी कर सवाल उठाए थे. आरोप लगाया था कि वानखेड़े ने मुस्लिम होते हुए अनुसूचित जाति होने की गलत जानकारी देकर UPSC की परीक्षा में SC कोटे का फायदा उठाया और नौकरी हासिल की. इन्हीं आरोपों के बाद  SC-ST कमीशन के उपाध्यक्ष अरुण हलदर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर वानखेडे का बचाव किया था. अब इसके खिलाफ नवाब मलिक राष्ट्रपति से शिकायत करने की बात कह रहे हैं.वानखेड़े पर ड्रग्स केस में वसूली के भी आरोपधर्म और जाति के सवालों से घिरे वानखेड़े पर ड्रग्स केस में वसूली के भी आरोप हैं. सोमवार को SC-ST आयोग जाने के बाद वानखेडे दिल्ली के आरके पुरम में NCB के सामने दूसरी बार पेश हुए. जहां वानखेडे से करीब 4 घंटे तक पूछताछ चली. ड्रग्स मामले में कई खुलासे करने वाले समीर वानखेड़े अब चौतरफा विवादों में घिरे हैं. आरोप है कि वानखेडे ड्रग्स पर कार्रवाई की आड़ में बड़ा वसूली नेटवर्क चला रहे हैं. ये भी पढ़ें-समीर वानखेड़े पहनते हैं दस करोड़ के कपड़े और 50 लाख की घड़ी, पढ़िए नवाब मलिक के 10 बड़े आरोपप्रधानमंत्री मोदी ने किया एलान, 2070 तक नेट कार्बन जीरो अर्थव्यवस्था होगा भारत



Source link

Related Articles

Stay Connected

1,271FansLike
1FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles