Manjhi tweet: बिहारियों को सौंप दो कश्मीर सब ठीक हो जाएगा, टारगेट किलिंग पर बोले पूर्व सीएम 


ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

जम्मू कश्मीर में आतंकी अमूमन रोजाना टारगेट किलिंग को अंजाम दे रहे हैं। वो खासतौर से बाहरी लोगों व कश्मीरी पंडितों को निशाना बना रहे हैं। एक बिहारी श्रमिक की हत्या से गुस्साए बिहार के पूर्व सीएम जीतनराम मांझी ने फिर अपनी मांग दोहराई है। उन्होंने कहा कि कश्मीर को बिहारियों को सौंप दिया जाना चाहिए, इससे वहां सब ठीक हो जाएगा। कश्मीर में टारगेट किलिंग से बाहरी लोगों व पंडितों में खौफ का माहौल है। आतंकियों ने वहां ईंट भट्ठे में काम करने वाले बिहार के एक श्रमिक की हत्या कर दी है। शु्क्रवार को मांझी ने ट्वीट किया, ‘हमने पूर्व में कहा था कि ‘द कश्मीर फाइल्स’ फिल्म आतंकी साजिश है, जिसको दिखाकर कश्मीर में खौफ एवं डर का माहौल बनाया जा रहा है। कश्मीर में घटित आतंकी वारदातों ने मेरी बातों को साबित कर दिया। मैं बस इतना ही कहूंगा कि अगर कश्मीर शांत करना है तो हम बिहारियों को सौंप दें, सब ठीक हो जाएगा।’  
ढाई माह पहले भी की थी यही मांगबिहार के पूर्व सीएम मांझी ने करीब ढाई माह पहले भी यही मांग की थी। अब पुन: उन्होंने अपनी पुराने टेस्ट को दोहराया। कश्मीर में तनाव, लोगों में रोष, गृह मंत्री शाह कर रहे बैठकउधर, टारगेट किलिंग से कश्मीर में इन दिनों तनाव का माहौल है। लोगों में भारी रोष है। वहीं, आज नई दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह प्रदेश की सुरक्षा को लेकर उच्चस्तरीय बैठक कर रहे हैं। दूसरी तरफ, जम्मू से कश्मीर संभाग तक आतंकवाद और टारगेट किलिंग के खिलाफ प्रदर्शन देखने को मिल रहे हैं। घाटी से बड़ी संख्या में कश्मीरी पंडित और अन्य अल्पसंख्यक कर्मचारी जम्मू की ओर पलायन कर रहे हैं। इन कर्मचारियों की मांग है कि उन्हें कश्मीर से बाहर ट्रांसफर किया जाए। उनका कहना है कि वे कश्मीर में डर के साये में नौकरी नहीं करना चाहते हैं। 

विस्तार

जम्मू कश्मीर में आतंकी अमूमन रोजाना टारगेट किलिंग को अंजाम दे रहे हैं। वो खासतौर से बाहरी लोगों व कश्मीरी पंडितों को निशाना बना रहे हैं। एक बिहारी श्रमिक की हत्या से गुस्साए बिहार के पूर्व सीएम जीतनराम मांझी ने फिर अपनी मांग दोहराई है। उन्होंने कहा कि कश्मीर को बिहारियों को सौंप दिया जाना चाहिए, इससे वहां सब ठीक हो जाएगा। 

कश्मीर में टारगेट किलिंग से बाहरी लोगों व पंडितों में खौफ का माहौल है। आतंकियों ने वहां ईंट भट्ठे में काम करने वाले बिहार के एक श्रमिक की हत्या कर दी है। शु्क्रवार को मांझी ने ट्वीट किया, ‘हमने पूर्व में कहा था कि ‘द कश्मीर फाइल्स’ फिल्म आतंकी साजिश है, जिसको दिखाकर कश्मीर में खौफ एवं डर का माहौल बनाया जा रहा है। कश्मीर में घटित आतंकी वारदातों ने मेरी बातों को साबित कर दिया। मैं बस इतना ही कहूंगा कि अगर कश्मीर शांत करना है तो हम बिहारियों को सौंप दें, सब ठीक हो जाएगा।’ 

 

हमने पुर्व में कहा था कि “द कश्मीर फाइल्स” फिल्म आतंकी साजिश है जिसको दिखाकर कश्मीर में खौफ एवं डर का माहौल बनाया जा रहा है।
कश्मीर में घटित आतंकी वारदातो ने मेरी बातों को साबित कर दिया।
मैं बस इतना ही कहूंगा कि अगर कश्मीर शांत करना है तो हम बिहारियों को सौंप दें,सब ठीक हो जाएगा। https://t.co/vKZhFgwE3p
— Jitan Ram Manjhi (@jitanrmanjhi) June 3, 2022

ढाई माह पहले भी की थी यही मांग
बिहार के पूर्व सीएम मांझी ने करीब ढाई माह पहले भी यही मांग की थी। अब पुन: उन्होंने अपनी पुराने टेस्ट को दोहराया। 
कश्मीर में तनाव, लोगों में रोष, गृह मंत्री शाह कर रहे बैठक
उधर, टारगेट किलिंग से कश्मीर में इन दिनों तनाव का माहौल है। लोगों में भारी रोष है। वहीं, आज नई दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह प्रदेश की सुरक्षा को लेकर उच्चस्तरीय बैठक कर रहे हैं। दूसरी तरफ, जम्मू से कश्मीर संभाग तक आतंकवाद और टारगेट किलिंग के खिलाफ प्रदर्शन देखने को मिल रहे हैं। घाटी से बड़ी संख्या में कश्मीरी पंडित और अन्य अल्पसंख्यक कर्मचारी जम्मू की ओर पलायन कर रहे हैं। इन कर्मचारियों की मांग है कि उन्हें कश्मीर से बाहर ट्रांसफर किया जाए। उनका कहना है कि वे कश्मीर में डर के साये में नौकरी नहीं करना चाहते हैं।

 



Source link

Related Articles

Stay Connected

1,271FansLike
1FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles