Farmers Delhi Chalo Protest Sound Cannon Range Acoustic Device LRAD Deployed To Stop Farmers



Farmers Delhi Chalo Protest: किसान आंदोलन के बीच पुलिस की ओर से इस्तेमाल में लाई एक डिवाइस की चर्चा है. पुलिस को हाल में सिंघू बॉर्डर पर लॉन्ग रेंज एकॉस्टिक डिवाइस (LRAD) के साथ देखा गया. द न्यू इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के मुताबिक, एलआरएडी को आमतौर पर साउंड कैनन यानी ध्वनि तोप के रूप में जाना जाता है. यह एक विशेष लाउडस्पीकर है जो हाई पावर पर ध्वनि उत्पन्न करता है.
2000 के दशक की शुरुआत में अमेरिकी सेना की ओर से एलआरएडी को विकसित किया गया था. इस साउंड कैनन से इतना तेज शोर होता है कि जो इंसानों के लिए असहनीय हो जाता है और जिसकी वजह से भीड़ को तितर-बितर करने में सुरक्षाबलों को मदद मिलती है. यह डिवाइस इंसान को बहरा तक बना सकती है. डिवाइस वजन 150 किलोग्राम तक होता है. यह 152 डेसिबल की ध्वनि निकाल सकता है. सिंधू बर्डर पर देखी गई साउंड कैनन पुलिस के वाहन के ऊपर लगाई गई है.
क्यों आंदोलन कर रहे हैं किसान?
पंजाब के हजारों किसान फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य की कानूनी गारंटी और कृषि ऋण माफी सहित अपनी मांगों को स्वीकार करने के लिए केंद्र पर दबाव बनाने के लिए अपने ‘दिल्ली चलो’ मार्च के तहत पंजाब-हरियाणा की सीमाओं पर डेरा डाले हुए हैं.
झड़प में एक किसान ने गंवान जान
बुधवार (21 फरवरी) को हरियाणा पुलिस और पंजाब के किसानों के बीच झड़प देखने को मिली, जिसमें बठिंडा के किसान शुभकरण सिंह (21) की मौत हो गई. यह घटना तब घटी जब किसान अवरोधकों की ओर तेजी से बढ़े और सुरक्षाबलों के साथ उनकी झड़प हो गई.
एसकेएम मनाएगा काला दिवस
इस बीच संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) ने पंजाब-हरियाणा सीमा पर एक प्रदर्शनकारी किसान की मौत को लेकर गुरुवार (22 फरवरी) को हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और गृहमंत्री अनिल विज के खिलाफ मामला दर्ज करने की मांग की. एसकेएम ने घोषणा की कि किसान इस मौत पर शोक व्यक्त करने के लिए शुक्रवार को ‘काला दिवस’ मनाएंगे और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और राज्य के गृहमंत्री अनिल विज के पुतले फूकेंगे.
एसकेएम ने कहा कि किसान 26 फरवरी को राजमार्गों पर ट्रैक्टर मार्च निकालेंगे और 14 मार्च को दिल्ली के रामलीला मैदान में ‘अखिल भारतीय किसान मजदूर महापंचायत’ करेंगे. एसकेएम ‘दिल्ली चलो’ मार्च का हिस्सा नहीं है, लेकिन वह इसका समर्थन कर रहा है. 
केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने किसानों से की ये अपील
केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने गुरुवार को पंजाब-हरियाणा की सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे किसानों से अपील की कि वे हिंसा का रास्ता नहीं अपनाएं और कहा कि सरकार उनकी चिंताओं का समाधान करने के लिए उनसे बातचीत करके के लिए तैयार है.
(भाषा इनपुट के साथ)
यह भी पढ़ें- Farmers Protest: साथी की मौत पर किसान मनाएंगे ‘ब्लैक डे,’ पूरी दिल्ली में प्रदर्शन को लेकर ये है तैयारी



Source link

Related Articles

Stay Connected

1,271FansLike
1FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles