EAM S Jaishankar Comments On Killing Of Teacher In Kulgam Said Terrorism Will Not End In One Day


S Jaishankar On Killing Of Teacher: विदेश मंत्री एस जयशंकर (S Jaishankar) ने चरमपंथ के खिलाफ जारी लड़ाई में जीत हासिल करने का भरोसा जताते हुए मंगलवार को कहा कि आतंकवाद (Terrorism) एक दिन में खत्म नहीं होगा. उन्होंने जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) में एक महिला शिक्षिका की आतंकवादियों द्वारा गोली मारकर हत्या किए जाने के बारे में पूछने पर ये बात कही. कश्मीर के कुलगाम जिले में आतंकवादियों द्वारा शिक्षक की टारगेट किलिंग (Kulgam Teacher Killing) के बारे में गुजरात के वडोदरा शहर में पत्रकारों के एक सवाल के जवाब में जयशंकर ने कहा कि केंद्र आतंकवाद के खिलाफ कई वर्षों से चल रही लड़ाई जीतने के लिए आश्वस्त है.  
वडोदरा में ‘गरीब कल्याण सम्मेलन’ में शामिल होने के बाद जयशंकर ने संवाददाताओं से कहा, “पिछले कई सालों से आतंकवाद के खिलाफ चल रही हमारी लड़ाई जारी रहेगी. देखिए, आतंकवाद एक दिन में खत्म नहीं होगा. लेकिन आतंकवादी भी जानते हैं कि मौजूदा सरकार पिछली सरकारों की तरह नहीं है.”
आतंकवादियों ने की कश्मीरी पंडित शिक्षिका की हत्या
जम्मू कश्मीर पुलिस ने कहा कि आतंकवादियों ने मंगलवार को कुलगाम जिले में कश्मीरी पंडित शिक्षिका रजनी बाला (36) की गोली मारकर हत्या कर दी. अधिकारियों ने कहा कि कुलगाम के गोपालपोरा इलाके में शिक्षक के तौर पर तैनात बाला आतंकवादियों द्वारा की गई गोलीबारी में घायल हो गईं. उन्हें पास के अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उनको मृत घोषित कर दिया.
आतंकवाद पर और क्या बोले विदेश मंत्री?
विदेश मंत्री ने एस जयशंकर (S Jaishankar) कहा कि हम निश्चित तौर पर आतंकवाद के खिलाफ जरूरी कदम उठाएंगे. आतंकवाद (Terrorism) के खिलाफ हमारी लड़ाई जारी रहेगी और हमें विश्वास है कि हम सफल होंगे. वडोदरा में कार्यक्रम में शामिल होने से पहले जयशंकर ने पुलिस भवन का दौरा किया और महिलाओं द्वारा की जाने वाली शिकायतों और संकट संबंधी फोन कॉल पर कार्रवाई के लिए एक विशेष प्रकोष्ठ ‘शी टीम’ (She Team) की महिला पुलिस कर्मियों के साथ बातचीत की. 
ये भी पढ़ें- 
Sidhu Moose Wala Murder Case: मूसेवाला हत्याकांड में लॉरेंस बिश्नोई से होगी कड़ी पूछताछ, दिल्ली पुलिस को मिली कस्टडी 
Monkeypox Guidelines: मंकीपॉक्स के बढ़ते खतरे के बीच केंद्र सरकार ने जारी की गाइडलाइन्स, जानें राज्यों से क्या कुछ कहा?



Source link

Related Articles

Stay Connected

1,271FansLike
1FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles