Delhi News: शख्स ने मां के बिस्तर को किया आग के हवाले, गई जान, देखभाल करने के लिए इंग्लैंड से दिल्ली हुआ था शिफ्ट



<p style="text-align: justify;"><strong>Delhi Incidence:</strong> वेस्ट दिल्ली के मानसरोवर गार्डन इलाके में एक फ्लैट में आग लगने से बुजुर्ग महिला की मौत हो गई, वहीं उनका बेटा आग की चपेट में आने से गंभीर रूप से झुलस गया. घायल का इलाज राम मनोहर लोहिया अस्पताल में चल रहा है. मृत महिला की पहचान महेन्द्र कौर (78) के तौर पर हुई. उनका शव पोस्टमार्टम के लिए हॉस्पिटल भेजा गया है.</p>
<p style="text-align: justify;">अडिशनल डीसीपी अक्षत कौशल के मुताबिक सोमवार/मंगलवार की दरमियानी रात लगभग एक बजे कीर्ति नगर थाना पुलिस को मानसरोवर गार्डन इलाके में एक फ्लैट में आग लगने की सूचना मिली. पुलिस स्टाफ मौके पर पहुंचा. फ्लैट का मुख्य दरवाजा अंदर से बंद था, जिसे दमकल कर्मियों की मदद से खुलवाया गया. अंदर धुआं भरा हुआ था और सभी दरवाजे और खिड़कियां बंद थे. एक बुजुर्ग महिला प्रवेश द्वार के पास फर्श पर अचेत अवस्था में मिली, महिला की मौत हो चुकी थी.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>फ्लैट की छत पर मिला बेटा</strong></p>
<p style="text-align: justify;">फ्लैट की छत पर 49 साल का एक व्यक्ति अचेत अवस्था में मिला. जिसकी पहचान बुजुर्ग महिला के बेटे सुरेंद्र पाल उर्फ पाली के रूप में हुई. सुरेंद्र पाल को नजदीकी अस्पताल ले जाया गया, जहां से उसे आरएमएल अस्पताल रेफर कर दिया गया. इस बीच दमकल कर्मियों ने पानी डालकर आग बुझाई.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>हादसा नहीं बल्कि हत्या</strong></p>
<p style="text-align: justify;">पुलिस के अनुसार जांच के दौरान पता चला कि गैस स्टोव के दो बर्नर खुले हुए थे और उनमें आग जल रही थी. आग केवल दो कमरों (मृतक महिला के बिस्तर और गेस्ट रूम के बिस्तर) पर लगी थी. यहां कपड़े और गत्ते अधजली हालत में पाए गए. जांच के दौरान गैस चूल्हे के पास और महेंद्र कौर के बेडरूम में कुछ अधजले टूटे हुए गत्ते के टुकड़े भी मिले. सुरेंद्र पाल के पास छत पर भी गत्ते का टुकड़ा मिला.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>सुरेंद्र पाल 6 महीने से है डिप्रेशन का शिकार</strong></p>
<p style="text-align: justify;">पुलिस को जांच करने पर पता चला कि सुरेंद्र पाल पिछले छह महीने से डिप्रेशन का शिकार है. उसके पिता पिछले 5 दिनों से अस्पताल में भर्ती हैं, जबकि मां भी बीमार चल रही थी. जांच में पुलिस को पता चला कि सुरेंद्र अपने भाई-बहन के साथ इंग्लैंड में ही रहता था लेकिन मां-बाप की देखभाल करने के लिए उसे इंग्लैंड से दिल्ली शिफ्ट होना पड़ा. पुलिस अब सुरेंद्र पाल के ठीक होने का इंतज़ार कर रही है, ताकि पूछताछ की जा सके.</p>
<p style="text-align: justify;">संभव है कि बेटे सुरेंद्रपाल ने भी खुदखुशी की कोशिश की हो, लेकिन बाद में वह जान बचाने के लिए छत पर भागा हो. जांच जारी है. पुलिस ने आईपीसी की धारा 436 और 302 के तहत मामला दर्ज कर लिया है.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>ये भी पढ़ें: <a title="Delhi News: गैंगस्टर अनमोल बिश्नोई गैंग से जुड़े 3 लोग पकड़े गए, उत्तम नगर में बिल्डर को पिस्टल दिखाकर डराने का है आरोप" href="https://www.abplive.com/news/india/gangster-anmol-bishnoi-gang-3-member-were-caught-uttam-nagar-builder-intimidated-by-them-showing-a-pistol-ann-2381007" target="_self">Delhi News: गैंगस्टर अनमोल बिश्नोई गैंग से जुड़े 3 लोग पकड़े गए, उत्तम नगर में बिल्डर को पिस्टल दिखाकर डराने का है आरोप</a></strong></p>



Source link

Related Articles

Stay Connected

1,271FansLike
1FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles