Defence Ministry On Pegasus Issue In Parliament | Pegasus Issue: सरकार ने संसद में कहा


Pegasus Issue: पेगासस जासूसी मामले को लेकर विपक्ष हमलावर है. इस बीच आज रक्षा मंत्रालय ने राज्यसभा में लिखित जवाब में कहा कि इजरायल के पेगासस स्पाईवेयर बनाने वाले NSO ग्रुप के साथ कोई लेन-देन नहीं हुआ है.बता दें कि संसद में पेगासस को लेकर गतिरोध बना हुआ है. 19 जुलाई से मॉनसून सत्र आरंभ हुआ था. लेकिन, अब तक सदन की कार्यवाही बाधित रही है. सत्र का समापन 13 अगस्त को होना है. हंगामे के बीच ही सरकार ने सदन में अनेक विधेयक को पारित कराया है तथा पेश किया है. Defence Ministry has not had any transaction with NGO Group Technologies: Defence Ministry tells Rajya Sabha
— ANI (@ANI) August 9, 2021कांग्रेस समेत कुछ विपक्षी दल पेगासस जासूसी मामले पर चर्चा कराने पर अड़े हैं, वहीं सरकार बार-बार कह रही है कि केंद्रीय सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री अश्विनी वैष्णव के इस विषय पर संसद में दिये गये बयान के बाद यह कोई विषय ही नहीं है. सरकार ने कहा है कि वह कोविड, किसानों के मुद्दे समेत अन्य विषयों पर चर्चा के लिए तैयार है.आज भी विपक्षी दलों की बैठक हुई. इस बैठक के बाद सूत्रों ने बताया कि विपक्षी दल पेगासस जासूसी मामले पर चर्चा की मांग को लेकर सरकार पर दबाव बनाने का प्रयास करते रहेंगे. साथ ही महंगाई और किसानों से जुड़े मुद्दों पर सरकार को घेरेंगे.खड़गे के संसद भवन स्थित कक्ष में हुई बैठक में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, खड़गे, लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी, पार्टी के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा एवं जयराम रमेश, समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता रामगोपाल यादव, लोकसभा में द्रमुक के नेता टीआर बालू, शिवसेना नेता संजय राउत और कई अन्य दलों के नेता मौजूद थे. संसद में हंगामे के बीच वो कौन सा बिल है जिसपर सरकार को मिला विपक्ष का पूरा साथ | जानें



Source link

Related Articles

Stay Connected

1,271FansLike
1FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles