Child marriage in Bihar : खबर इसी जमाने की है- मां कर्ज नहीं चुका सकी तो उसकी नाबालिग बेटी से शादी रचा ली


मां कर्ज नहीं चुका सकी तो ..
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार

पुराने जमाने में ऐसी बातें होती थीं। महाजनों को लेकर बनी कई फिल्मों में लोग ऐसा देखते थे। माना जाता है कि अब ऐसा नहीं होता। इसलिए, दशकों से इस विषय पर फिल्म भी नहीं बनी। लेकिन, चौंकाने वाले शीर्षक की बातें सही हैं। मां ने दो लाख रुपये कर्ज लिए थे। नहीं चुका सकी तो बार-बार तकाजे से तंग आने के बाद बेटी को उसके घर छोड़ आई। कहा कि काम करेगी। लेकिन, अब 11 साल की उस बच्ची की मांगों में सिंदूर है। सिंदूर उस आदमी के नाम का, जिसकी पहली पत्नी से उसे दो बच्चे हैं। पहली पत्नी भी चुप्पी साधे बैठी है। बच्ची की मां भी। थाना-पुलिस भी। ‘अमर उजाला’ ने इस शर्मनाक हकीकत को सामने लाना जरूरी समझा।

मां और बेटी की बातें भी चौंका रही

11 वर्षीय नाबालिग से 40 साल के विवाहित व्यक्ति की दूसरी शादी का यह मामला सीवान जिले के मैरवा थाना क्षेत्र का है। बच्ची की पहचान उजागर नहीं हो, इसलिए उसकी, उसके गांव की और उससे शादी करने वाले का भी नाम जाहिर नहीं किया जा रहा है। इस हकीकत के सारे किरदारों की बातें अलग-अलग हैं। दोनों की जाति एक है, इसलिए हंगामा मचने की जगह मैनेज करने का खेल चल रहा है। जिस बच्ची की शादी हुई, वह कहती है- “मां ने कर्ज लिया था। कितना यह पता नहीं। मां इनके यहां छोड़ आई।” मां कह रही- “उस गांव में हमारी रिश्तेदारी है। बेटी के साथ हमेशा आती-जाती थी। बेटी की तरह रखकर पढ़ाने की बात कहा तो छोड़ दिया, लेकिन अब उससे शादी कर कर रख लिया है। मैं चाहती हूं कि मेरी बेटी मेरे पास वापस आ जाए।”

गांव वाले बता रहे सच, शादी करने वाले की कहानी अलग

गांव वालों ने बताया कि लड़की मां ने ₹2लाख कर्ज लिए थे और तकाजे के बाद भी नहीं लौटा पा रही थी। परिवार गरीब है तो इस विवाहित शख्स से कर्ज वापस नहीं कर पाने पर उसकी बेटी को काम के नाम पर रख लिया। फिर उससे शादी रचा ली। शादी की बात फैलने के बाद अब इस शख्स ने गांव के कुछ लोगों को कहा- “मैंने गलती कर दी। जो भी सजा मिलेगी, वह मैं भुगतने के लिए तैयार हूं।” कुछ लोगों को कहा- “बेटी के नाम पर लाया हूं। जहां जाना चाहे, जा सकती है और रह सकती है।” दूसरी तरफ यह बात भी सामने आ रही कि उसने लड़की से उसकी मां को कॉल करवा कर कहा है कि कि मीडिया में जाओगी तो जीना हराम कर देंगे। उस शख्स की पत्नी से जब लोगों ने पूछा तो जवाब मिला- “हमको कुछ पता नहीं, जो मन में रहा होगा तो किए होंगे।”

पुलिस की ऐसी चुप्पी भी अजूबा

यह खबर जंगल में आग की तरह फैल रही, लेकिन पुलिस को इस केस में भी लड़की वालों की तरफ से आवेदन का इंतजार है। कोई आवेदन नहीं मिलने के कारण आधिकारिक रूप से कुछ जानकारी भी नहीं मिल रही है। इस बारे में जानकारी के लिए मैरवा थानाध्यक्ष को कॉल किया गया तो सरकारी नंबर बंद मिला। एसपी शैलेश कुमार सिन्हा से बातचीत करने की कोशिश की गई तो दूसरी तरफ से कॉल डिस्कनेक्ट कर दिया गया।



Source link

Related Articles

Stay Connected

1,271FansLike
1FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles