Breaking News Live Updates Three years of the second term of the Modi government Sidhu Musewala Gyanvai Masjid Case



Breaking News Hindi LIVE Updates, 30th May 2022: ऐसा पहली बार हुआ था जब कोई गैर कांग्रसी सरकार अपना कार्यकाल पूरा करने के बाद लगातार दूसरी बार सत्ता में आई हो. शानदार जीत के साथ पीएम मोदी ने आज से तीन साल पहले आज ही के दिन यानी 30 मई 2019 को दूसरी बार पीएम पद की शपथ ली थी. दूसरे कार्यकाल का आज तीन साल पूरे हो गए. एनडीए सरकार के 8 साल पूरे होने पर बीजेपी ने मोदी सरकार के कामकाज को आम लोगों तक पहुंचाने के लिए बड़ी योजना बनाई है. इस मौके पर आज शिमला के रिज मैदान में विशेष समारोह का आयोजन होगा जिसमें पीएम मोदी भी शामिल होंगे.
हिमाचल प्रदेश के लिए गौरव के क्षण है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केंद्र सरकार के 8 साल पूरे होने पर रैली के लिए शिमला को चुना है. सभी जिला मुख्यालयों को वर्चुअल जोड़ा जायेगा. हिमाचल के लिए ये बड़ी घड़ी है जिसका लाभ प्रदेश को मिलेगा. इस समारोह में सभी बीजेपी शासित राज्यों के मुख्यमंत्री और केंद्र सरकार के मंत्री भी शामिल होंगे. उससे पहले आज दूसरे कार्यकाल के तीन साल पूरे होने पर बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा शाम 4 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे. प्रेस कॉन्फ्रेस में गृहमंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह भी मौजूद रहेंगे. 
सिद्धू मूसेवाला की हत्या पर उठ रहे सवाल
मशहूर पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला (Sidhu Moose Wala) की दिन दहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी गई है. अपने गानों में पंजाबी स्वैग और रैप का तड़का लगाने वाले सिद्धू मूसेवाला की हत्या का कारण फिलहाल सामने नहीं आया है. लेकिन सिद्धू मूसेवाला की इस तरह सरेआम हत्या से पंजाबी म्यूजिक इंडस्ट्री को बड़ा झटका लगा है. साथ ही मूसेवाला के चाहने वालों में शोक लहर दौड़ पड़ी है.  
सिद्धू की हत्या से पंजाब की कानून-व्यवस्था पर सवाल खड़े हो रहे हैं. सिद्धू की हत्या की जिम्मेदारी वैसे गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई (lawrence bishnoi) के साथी गोल्डी बराड (Goldy Brar) ने ली है. गोल्डी बराड़ कनाडा में रहता है जबकि लॉरेंस बिश्नोई राजस्थान की जेल में बंद है. हालांकि, सिद्धू मूसेवाला की सुरक्षा को लेकर भी कई सवाल उठ रहे हैं. सिद्धू मूसेवाला पर हमले से एक दिन पहले ही उनकी सुरक्षा में कटौती कर दी गई. सिद्धू मूसेवाला की सुरक्षा में पहले 4 जवान तैनात थे. लेकिन एक दिन पहले उसे घटाकर 2 जवानों को तैनात किया गया.
ज्ञानवापी मामले पर आज सुनवाई
ज्ञानवापी में वुजूखाना है या शिवलिंग (Shivling) इस पर आज जिला जज की अदालत में बहस होनी है. दोपहर 2 बजे कोर्ट की कार्रवाई शुरू होगी और अंजुमन इंतजामिया मसाजिद कमेटी की ओर से इस पूरे मामले को खारिज करने की दलीलें रखी जाएंगी. वहीं, वादी पक्ष भी ज्ञानवापी परिसर में शिवलिंग होने के सबूत पेश करेगा और इस पर मुकदमा चलाने की पैरवी करते दिखेगा. 
बता दें, इससे पहले 26 मई को भी मुस्लिम पक्ष की तरफ से कई दलीलें दी गई थीं जिसमें केस को रफा दफा किए जाने की बात की गई थी. इस दौरान मुस्लिम पक्ष ने हिंदू पक्ष की याचिका खारिज करने की मांग की थी साथ ही दावा किया था कि ज्ञानवापी परिसर में शिवलिंग नहीं, वुजूखाने का फव्वारा है. इसके अलावा अदालत में इस दौरान ‘प्लेसेज ऑफ वर्शिप एक्ट’ (Places of Worship Act) पर भी चर्चा हुई थी. वहीं आज तमाम दलीलों के बीच ज्ञानवापी केस के दोनों पक्षों को सर्वे से जुड़े वीडियो और तस्वीरें भी दी जाएंगी. 
 



Source link

Related Articles

Stay Connected

1,271FansLike
1FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles