BJP First List For Karnataka Election: BS Yediyurappa Son, Basavaraj Bommai, CT Ravi Gets Ticket Top 10 Highlights


Karnataka Elections BJP Candidates List: कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी (BJP) ने लंबे मंथन के बाद मंगलवार (11 अप्रैल) को 189 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी कर दी. केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव व कर्नाटक के प्रभारी अरुण सिंह ने दिल्ली में उम्मीदवारों के नामों की घोषणा की. केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक होने के बाद बीजेपी के शीर्ष नेताओं ने कई दौर की बैठक की और उसके बाद उम्मीदवारों के नामों को अंतिम रूप दिया है. जानिए टिकट बंटवारे से जुड़ी 10 बड़ी बातें.
1. मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई अपने पारंपरिक शिगगांव सीट से चुनाव लड़ेंगे. कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता बीएस येदियुरप्पा के बेटे विजयेंद्र शिकारीपुरा सीट से चुनाव लड़ेंगे.
2. अरुण सिंह ने बताया कि पार्टी ने 52 नए चेहरों को चुनाव मैदान में उतारा है. उनके मुताबिक 189 उम्मीदवारों की सूची में 32 अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) से हैं जबकि 30 अनुसूचित जाति और 16 अनुसूचित जनजाति वर्ग से हैं.
3. उन्होंने बताया कि उम्मीदवारों की पहली सूची में कुल आठ महिलाओं को जगह मिली है. सिंह ने कहा कि सूची में पांच वकील, नौ चिकित्सक, तीन अकादमिक क्षेत्र से, एक सेवानिवृत्त प्रशासनिक अधिकारी और एक भारतीय पुलिस सेवा के सेवानिवृत्त अधिकारी का नाम शामिल हैं. इसमें सरकारी सेवा से सेवानिवृत्त हुए तीन कर्मचारी और आठ सामाजिक कार्यकर्ताओं को जगह दी गई है. 
4. अरुण सिंह ने उम्मीदवारों की सूची जारी करते हुए दावा किया कि कर्नाटक में बीजेपी प्रचंड बहुमत से फिर से सरकार बनाएगी. उन्होंने कहा कि कांग्रेस धरातल पर नहीं है. वहां गुटबाजी है जबकि जनता दल (सेक्युलर) एक डूबता जहाज है.  

The Central Election Committee of the BJP has decided the names of 189 candidates, in the first list, for the ensuing general elections to the legislative assembly of Karnataka. (1/2) pic.twitter.com/RhGFuhCWwS
— BJP (@BJP4India) April 11, 2023

5. बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव सी टी रवि अपनी पारंपरिक चिकमगलूर सीट से उम्मीदवार होंगे. कर्नाटक के मंत्री आर अशोक, कनकपुरा में प्रदेश कांग्रेस प्रमुख डी के शिवकुमार के खिलाफ लड़ेंगे चुनाव, साथ ही वह एक और सीट से चुनाव लड़ेंगे. 
6. बीजेपी की कर्नाटक इकाई के वरिष्ठ नेता के एस ईश्वरप्पा ने टिकट के एलान से कुछ घंटे पहले पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा को पत्र लिखकर चुनाव नहीं लड़ने की बात कही. उन्होंने पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व से कहा कि वह चुनावी राजनीति से सन्यास लेना चाहते हैं और 10 मई को होने वाले विधानसभा चुनाव में किसी सीट से उन्हें उम्मीदवार बनाने पर विचार नहीं करने का आग्रह भी किया. ईश्वरप्पा अक्सर अपने बयानों और उनके खिलाफ लगाए गए आरोपों के कारण विवादों में रहे हैं.
7. अब तक की जानकारी के मुताबिक, बीजेपी ने एक भी मुस्लिम समुदाय के लोगों को टिकट नहीं दिया है.
8. वहीं पार्टी ने कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री जगदीश शेट्टार को भी टिकट देने से इनकार कर दिया. शेट्टार ने मंगलवार को कहा कि बीजेपी के केंद्रीय नेतृत्व ने उन्हें 10 मई को होने वाले विधानसभा चुनाव नहीं लड़ने को कहा, जिस पर उन्होंने पार्टी के शीर्ष नेताओं को अपनी राय से अवगत करा दिया है. 67 वर्षीय हुबली-धारवाड़ से मौजूदा विधायक शेट्टार ने बताया कि उन्होंने पार्टी नेतृत्व से कहा कि वह फिर से चुनाव लड़ेंगे, और उनसे उन्हें एक और अवसर देने का अनुरोध किया है.
9. शेट्टार की नाराजगी पर केंद्रीय मंत्री और बीजेपी के नेता धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि वो हमारे बड़े नेता हैं, हम उन्हें समझा लेंगे. उनसे हमारी बात हुई है. हमें विश्वास है कि वो हमारे साथ रहेंगे. ईश्वरप्पा और जगदीश सेट्टार की सीट पर टिकट होल्ड किया गया है.
10. कर्नाटक में बीजेपी के चुनाव प्रभारी नियुक्त किए गए प्रधान ने कहा कि नई पीढ़ी का नेतृत्व तैयार करने के मकसद से उम्मीदवारों के नाम तय किए गए हैं. बार-बार यह पूछे जाने पर कि बीजेपी ने कितने वर्तमान विधायकों को टिकट से वंचित किया है, उन्होंने कहा कि उम्मीदवारों के चयन में नयापन लाया गया है. उन्होंने कहा कि अभी 34 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा बाकी है. एक बार जब इन सबकी घोषणा हो जाएगी तो आंकलन किया जाएगा.
ये भी पढ़ें- 
Karnataka Election 2023: ‘कुछ शकुनि उनके भाई एच डी रेवन्ना को बरगलाने का प्रयास कर रहे हैं ‘, एच डी कुमारस्वामी





Source link

Related Articles

Stay Connected

1,271FansLike
1FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles