Bihar News : पटना में किताब की दुकान पर NIA की टीम, दरभंगा से एक ट्रांसलेटर को उठाया


पटना में किताब की दुकान पर NIA की टीम ने दस्तावेजों की जांच की।
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार

बिहार में नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (NIA) ने एक बार फिर सनसनीखेज छापेमारी और गिरफ्तारी की है। पटना के फुलवारीशरीफ थाना क्षेत्र के खगौल रोड स्थित इमारत-ए-शरिया के पास एक मकान में NIA की टीम पहुंची तो उधर दरभंगा से एक शख्स को गिरफ्तार किया। एनआईए की छापेमारी से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई। करीब पौने 11 बजे एनआईए की टीम फुलवारी से भी निकल गई।

इमारत-ए-शरिया के पास है किताब दुकान

एनआईए की टीम ने फुलवारी में इमारत-ए-शरिया के ठीक सामने पटना-खगौल मुख्य मार्ग पर मोहम्मद रियाजउद्दीन कासमी की किताब की दुकान पर अल्लसुबह पांच बजे से जांच-पड़ताल कर रही है। यहां से कुछ दस्तावेज बरामद किए जाने की सूचना है, हालांकि गिरफ्तारी के बारे में अबतक कोई जानकारी सामने नहीं आई है। 

दरभंगा से अरबी ट्रांसलेटर को उठाया

दरभंगा जिला के बहेरा थाना क्षेत्र के छोटकी बाजार से मो. मुस्लिम के पोते को एनआईए की टीम गिरफ्तार कर अपने साथ ले गई। ग्रामीणों के अनुसार वह पटना के एक मदरसा में रहकर पढ़ाई करता था। साथ ही वह अरबी भाषा में ट्रांसलेट करने का भी काम किया करता था। सूत्रों के अनुसार मुंबई के किसी युवक के ISI से संबंधित किसी शख्स से मोबाइल पर बातचीत होने की बात सामने आई और जांच-पड़ताल में एनआईए को दरभंगा से तार जुड़ा मिला, जिसके बाद यह गिरफ्तारी हुई है। दरभंगा के एसएसपी अवकाश कुमार ने पुष्टि की कि NIA की टीम युवक को गिरफ्तार कर अपने साथ ले गई। गिरफ्तार युवक से पूछताछ के आधार पर बहेड़ा थाना क्षेत्र के काजियाना मोहल्ले के कई अन्य लोगों से भी थाने पर पूछताछ चल रही है। पूछताछ के बाद युवक शमीउल्ला (पिता- मो. हबीबुल्ला) को बांड भरवा कर परिजनों के साथ जाने दिया गया। वह अब स्थानीय थाने की नजर में रहेगा और एनआईए के रडार में भी।

PFI केस की जांच कर रही है एनआईए की टीम

19 जून को तमिलनाडु के तिरुवल्लूर में बिहार के पश्चिमी चंपारण निवासी मुमताज अंसारी की गिरफ्तारी के बाद उसकी निशानदेही पर पटना और दरभंगा में ताजा जांच और गिरफ्तारी की बात सामने आ रही है। इसकी पुष्टि तो नहीं की जा रही है, लेकिन बताया जा रहा है कि पटना के फुलवारीशरीफ थाने से एनआईए को ट्रांसफर हुए पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) के केस की जांच के दौरान मुमताज का नाम सामने आया और उसकी गिरफ्तारी के बाद एक-एक कर यह बातें खुल रही हैं।



Source link

Related Articles

Stay Connected

1,271FansLike
1FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles