Bihar News : खाकी वर्दी वाला बता रहा था खुद को उसका पति, मर्डर हुआ तो राज जान चौंके सारे; पुलिस विभाग भी सन्न


आरोपी मोहन यादव पर विमला देवी की हत्या का आरोप लगा है।
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार

गया के रामपुर थाना क्षेत्र के मोहन नगर मोहल्ला में हुई महिला की हत्या के मामले में एक नया मोड़ सामने आया है। पुलिसिया जांच के बाद यह बात सामने आया है। जिस महिला की हत्या हुई वह आरोपी मोहन की पत्नी नहीं है। आरोपी मोहन की पत्नी जीवित है और वह अपने दो बच्चों के साथ मायके में रह रही है। जिस महिला की आरोपी मोहन ने हत्या की, वह महिला उसकी चचेरी मौसी निकली। जिसे वह पत्नी बता कर मोहननगर मोहल्ला में रुका था। मृतका की पहचान हो जाने के बाद उसका बेटा शव को अपने साथ ले गया। इधर, घटना के बाद पुलिसिया जांच के क्रम में आरोपी मोहन यादव का फोटो पुलिस वर्दी में मिलने के बाद पुलिस विभाग में हड़कप मच गया है। अब पुलिस आरोपी की तलाश के साथ यह भी देख रही है, कहीं पुलिस विभाग में फदस्थापित तो नहीं है।

यह वीडियो/विज्ञापन हटाएं

जहां रुका था, वहां के लोग पति-पत्नी समझ रहे थे दोनों को

आरोपी मोहन यादव चचेरी मौसी की हत्या के बाद फरार हो गया है। आरोपी मोहन नगर में स्थित मकसूदन बैठा के मकान में हत्या के दिन से पहले भी दो बार मकान में किराये में रहा था और दोनों बार अपनी चचेरी मौसी विमला देवी को ही पत्नी बता कर रखा था। मकान मालिक मकसूदन बैठा ने बताया कि इसके पहले आरोपी मोहन यादव 15 दिनों के लिए दो बार घर किराये पर लेकर रहा था। लेकिन, दोनों बार मेरी पत्नी के सामने वहीं औरत को लेकर आया और उसे अपना पत्नी बताया था। जिसकी आरोपी ने हत्या ने हत्या की थी। जब बच्चों के बारे में पूछताछ किया था तो आरोपी ने बताया कि दोनों बच्चे नानी के घर पर है।

विमला देवी का बेटा ले गया शव

शहर के रामपुर थानाध्यक्ष रवि कुमार ने बताया कि मृतका की पहचान हो गयी है। वह औरंगाबाद के सलैया रामपुर गांव के रहने वाली 35 वर्षीय विमला देवी के रुप में की गई है। इसके पति का नाम जगदीश यादव है। उसका 17 वर्षीय पुत्र छोटु कुमार शव की पहचान कर ले गया।

पैसे के कारण तो हत्या नहीं

पुलिस की मानें तो विमला के साथ मोहन यादव का अवैध संबंध था। वह गया शहर के मोहन नगर मोहल्ला में मृतका विमला को पत्नी बता कर पहले रखा था। विमला के हत्या के बाद आरोपी का संबंध सामने आने के बाद पुलिसिया जांच का एंगल भी बदल गया है। अब पुलिस आरोपी की गिरफ्तारी के लिए लगातार संबंधित ठिकानों पर छापेमारी कर रही है, ताकि सच सामने आ सकें।



Source link

Related Articles

Stay Connected

1,271FansLike
1FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles