Bihar : CO पर हमलावर आर्मी मैन गिरफ्तार, कहा – म्यूटेशन नहीं कर रहा था इसलिए किया हमला


सीओ पर जानलेवा हमला करने वाला गिरफ्तार
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार

बेगूसराय के बखरी CO पर हमला करने वाले दो आरोपी में एक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया गया है जबकि दूसरा आरोपी अभी तक फरार है। इस संबंध में बेगूसराय एसपी योगेंद्र कुमार ने बताया कि दूसरे की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

म्यूटेशन नहीं करने की वजह से किया हमला 

एसपी योगेन्द्र कुमार ने बताया कि हमलावर मोहन कुमार सिंह अपनी एक कट्ठा जमीन का म्यूटेशन कराने के लिए प्रखंड का चक्कर लगा रहा था। दो बार उसका म्यूटेशन रद्द हो गया था। इस संबंध में मोहन कुमार सिंह ने बताया कि वह जमीन किसी अन्य पटेदार के नाम पर था जिसका रसीद कटा हुआ था। म्यूटेशन रद्द होने के बाद कई बार उसने CO से म्यूटेशन के लिए निवेदन किया लेकिन सीओ म्यूटेशन नहीं कर रहा था।

विदाई समारोह का चल रहा था कार्यक्रम  

बुधवार को सीओ के आवास पर ही विदाई समारोह का कार्यक्रम चल रहा था। विदाई समारोह के बाद सभी लोग अपने अपने घर चले गये थे। इसी बीच मोहन कुमार सिंह जमीन की मोटेशन के संबंध में बात करने के लिए सी०ओ० के आवास में घुस गया। अंदर जाते ही वह सीओ के साथ म्यूटेशन की बात को लेकर बहस करने लगा। बहस के दौरान सीओ शिवेंद्र कुमार ने जमीन को गलत तरीके से मोटेशन करने से मना कर दिया जिस वजह से आक्रोशित होकर 

आरोपी मोहन कुमार ने चाकू से दनादन उनपर हमला कर दिया। इस हमला में सीओ शिवेन्द्र कुमार गंभीर रूप से घायल हो गए। फिलहाल इनका इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है।

इस वजह से रद्द हो गया था म्यूटेशन 

गिरफ्तार व्यक्ति मोहन कुमार सिंह से बताया कि इनके द्वारा एक जमीन खरीदी गई थी जिसके मोटोशन के लिए उन्होंने दो बार आवेदन दिया लेकिन हल्का कर्मचारी एवं राजस्व अधिकारी ने जांच किया। जांच के अनुसार उस खाता-खेसरा से संबंधित आपत्तिकर्ता कन्हैया प्रसाद सिंह (पे० स्व० गुप्तेश्वर प्रसाद सिंह) सा० शकरपुरा थाना – बखरी के द्वारा दिनांक 23.02.23 को आवेदन दिया गया था जिसमें यह स्पष्ट रूप से लिखा है कि उक्त भूमि अरूण प्रसाद सिंह के द्वारा अवैध रूप से बिक्री की गई है। साथ ही उक्त खाता-खेसरा की जमीन भूहद बन्दी वाद सं0 02/1973-74 के द्वारा पट्टा पर दी गई है जो पट्टाधारी नेहरू रजक के नाम से है। इस जमीन का लगान रसीद अद्यतन रहने के कारण इनके द्वारा मोटेशन हेतु समर्पित आवेदन को अस्वीकृत कर दिया गया।  

                



Source link

Related Articles

Stay Connected

1,271FansLike
1FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles