Bihar : नई शिक्षक नियमावली के विरोध में महासम्मेलन, संघर्ष मोर्चा ने कहा- बिना शर्त राज्यकर्मी का दर्जा दें


सड़क पर उतरे शिक्षक अभ्यर्थी।
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार

शिक्षक नियमावली के विरोध में आज शिक्षक और अभ्यर्थी पटना में महासम्मेलन कर रहे हैं। शुक्रवार को पटना के IMA हॉल में हजारों की संख्या में शिक्षक और अभ्यर्थी जुटे हैं। सभी नई शिक्षक नियमावली का विरोध कर रहे हैं। उनकी मांग है किशिक्षक नियमावली 2023 को लेकर विवाद एवं उससे नियोजित शिक्षकों को हो रही समस्याओं को बिहार सरकार जल्द से जल्द दूर करे। टीईटी एसटीईटी उतीर्ण नियोजित शिक्षक संघ (TSUNSS),गोपगुट के प्रदेश प्रवक्ता अश्विनी पांडेय ने आरोप लगाया कि बिहार सरकार लगातार CTET-BTET पास अभ्यर्थियों की उपेक्षा कर रही है। साथ ही नई नियमावली के तरह नियोजित शिक्षक को परीक्षा देने की बात कही जा रही है। यह गलत है। बिहार सरकार इसे मामले को गंभीरता से ले और नई अध्यापक नियमावली 2023 में संशोधन कर सभी कार्यरत शिक्षकों को बिना शर्त राज्यकर्मी का दर्जा देने एवं समान काम का समान वेतन देने की घोषणा करे। 

खबर अपडेट हो रही है…



Source link

Related Articles

Stay Connected

1,271FansLike
1FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles