Ayran Khan Drugs Case Officer Sameer Wankhede Transferred To DGTS Chennai


Sameer Wankhede Transferred: जाने माने अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान से जुड़े ड्रग्स मामले (Aryan Khan Drugs Case) की जांच करने वाले अधिकारी समीर वानखेड़े (Sameer Wankhede) का तबादला (Transfer) हो गया है. समीर वानखेड़े एनसीबी मुंबई के पूर्व क्षेत्रीय निदेशक हैं. वर्तमान में डीआरआई में तैनात हैं. अब डीजी करदाता सेवा निदेशालय, चेन्नई में उनका तबादला कर दिया है. ये एक गैर संवेदनशील पोस्टिंग है.
इससे पहले समीर वानखेडे के खिलाफ केंद्र सरकार ने कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए थे. बता दें कि, नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम ने अपनी जांच में आर्यन खान समेत 6 लोगों को दोषी नहीं पाया और उनके खिलाफ पर्याप्त सबूत ना मिलने की बात कह कर उन्हें छोड़ दिया. 
जांच के लिए विशेष जांच टीम गठित की थी
इस मामले में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के अधिकारियों पर महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक द्वारा आरोप लगाए जाने के बाद एनसीबी मुख्यालय ने इस मामले की जांच के लिए के लिए एक विशेष जांच टीम गठित की थी. इस स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम ने अपनी जांच के दौरान अनेक महत्वपूर्ण बिंदुओं पर जांच की जिसमें शामिल था कि क्या गिरफ्तारी के समय आर्यन खान के पास से कोई मादक पदार्थ बरामद हुआ था? क्या वे ड्रग सिंडिकेट का हिस्सा थे? उनकी गिरफ्तारी के समय उन पर एनडीपीएस कानून लागू होता था या नहीं? गिरफ्तारी के समय नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के मानकों का पालन किया गया था या नहीं?
जांच में आर्यन खान को दोषी नहीं पाया गया
एसआईटी जांच में जिन अहम बिंदुओं पर जांच की गई थी उन सभी में आर्यन खान को दोषी नहीं पाया गया. क्रूज ड्रग्स मामले की चार्जशीट में खुलासा हुआ कि अर्बाज मर्चेंट को आर्यन खान ने कहा था ड्रग्स मत लेकर आना NCB बहुत एक्टिव हो गई है और अगर वो ऐसा करेगा तो समस्या में फंस सकता है. NCB ने यह भी साफ कर दिया है उनके पास ऐसे कोई सबूत नहीं मिले हैं जो यह साबित करे कि आर्यन खान के अंतरराष्ट्रीय ड्रग्स सिंडिकेट से संबंध थे और इस मामले में उन्होंने कोई कोंसपिरेसी की हो.
समीर वानखेड़े ने की थी टेक्निकल गलतियां- सूत्र
इसके बाद एसआईटी ने सबूत ना मिलने का हवाला देकर अपनी जांच में आर्यन खान (Aryan Khan) को बरी कर दिया. लेकिन इसके साथ ही जांच अधिकारी के खिलाफ भी कड़ी टिप्पणियां कर दी. सूत्रों के मुताबिक इस रिपोर्ट में साफ तौर पर कहा गया था कि मामले के जांच अधिकारी समीर वानखेड़े (Sameer Wankhede) ने अनेक टेक्निकल गलतियां की है. 
ये भी पढ़ें- 
Satyendar Jain Arrested: सत्येंद्र जैन की गिरफ्तारी पर AAP और BJP आमने-सामने, सिसोदिया बोले- फर्जी केस में फंसाया गया 
‘Umar Khalid के भाषण की भाषा सही नहीं, लेकिन इसे आतंकवादी कृत्य नहीं ठहराया जा सकता’, दिल्ली HC की अहम टिप्पणी



Source link

Related Articles

Stay Connected

1,271FansLike
1FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles