AAP Accuses LG Of Interfering In Government Work Leader Of Opposition Bidhuri Defends Ann



Delhi Government Vs LG: दिल्ली में अभी नए उप राज्यपाल (Lieutenant Governor) के शपथ लिए कुछ ही दिन हुए हैं कि दिल्ली के एलजी और केजरीवाल (Delhi CM Arvind Kejriwal) में टकराव शुरू हो गया है. आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) ने आरोप लगाया है कि दिल्ली के एलजी संवैधानिक व्यवस्था (Constitutional System) के दायरे में रहकर काम नहीं कर रहे हैं.
वहीं इस पर दिल्ली बीजेपी के विधानसभा में विपक्ष के नेता रामवीर सिंह बिधूड़ी (Ramveer Singh Bidhuri) ने आप के आरोपों को नकारते हुए कहा कि एलजी किसी के काम में कोई हस्तक्षेप नहीं कर रहे है बल्कि दिल्ली के लिए ही काम कर रहे हैं. उनसे एबीपी न्यूज ने बातचीत कर कुछ सवाल पूछे हैं. 
बिना दिल्ली सरकार की जानकारी के अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे हैं एलजी?दिल्ली विधानसभा के नेता विपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने इस सवाल के जवाब में कहा कि हम भारत सरकार के बहुत आभारी हैं कि उन्होंने दिल्ली को बहुत ही योग्य एलजी दिया है. वो शानदार प्रशासक रहे हैं. अरविंद केजरीवाल को यह बात मालूम है कि जब वो खादी बोर्ड के चेयरमैन थे तब उन्होंने उत्पादन डबल कर दिया था. एलजी ने अपनी कलम के जरिए  32 लाख लोगों को रोजगार दिया और जब से वो उप राज्यपाल बने हैं वो एक भी दिन घर पर नहीं बैठे हैं.
उन्होंने जिस दिन से शपथ ली है वह दिल्ली की सड़कों पर निकल गए और जिन सड़को पर गए वो सड़कें दिल्ली सरकार की नहीं हैं. ये सड़कें या तो डीडीए की हैं या फिर नेशनल हाईवे की हैं. जहां भी उनको कमी दिखाई दी है उन्होंने अधिकारियों को इस मामले में डायरेक्शन दिया है. जिससे दिल्ली और अच्छी दिखाई दे. अगर उन्होंने ऐसा किया है तो क्या गलत किया है. 
उन्होंने आगे कहा कि अगर एलजी कनॉट प्लेस में अधिकारियों से मिलने जाते हैं तो ये इलाका केजरीवाल के नियंत्रण में नहीं आता है फिर भी उनको क्यों दर्द हो रहा है. अगर एलजी डीडीए के पार्कों की हालत देखने जा रहे हैं और इस बाबत उन्होंने अधिकारियों को दिशा निर्देश दिए हैं तो सीएम को इसका स्वागत करना चाहिए. 
नेता विपक्ष ने केजरीवाल पर आरोप लगाया कि वो और उनके मंत्री कभी भी घर से बाहर नहीं निकलते हैं इसलिए उनको वस्तुस्थिति का पता नहीं चलता है. नेता विपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने कहा कि अभी दिल्ली में जो आंधी आई उससे कई पेड़ गिर गए. इस वजह से लोगों को दिनभर दिक्कत हुई. एलजी ने पेड़ों को हटाने के लिए एनडीआरएफ की ड्यूटी लगाई  और सड़कों को साफ कराया.
आम आदमी पार्टी का कहना है कि बिना सरकार की सूचना के अधिकारियों को बुला रहे हैं?इस सवाल के जवाब में बिधूड़ी कहते हैं कि अगर नई दिल्ली में सैकड़ों पेड़ गिर गए और दिल्ली के एलजी एनडीआरएफ को वहां तैनात कर रहे हैं और स्थिति को खुद मॉनिटर कर रहे हैं तो इससे दिल्ली के सीएम को खुश होना चाहिए कि दिल्ली के एलजी दिल्ली के लिए काम कर रहे हैं.  दिल्ली जल बोर्ड के अधिकारियों को बुला लिया और बताया नहीं?बिधूड़ी ने कहा कि अगर उनके पास यह शिकायत आ रही है कि दिल्ली के लोगों को दो 2 दिन तक पीने का पानी नहीं मिल रहा है और जो मिल भी रहा है वह गंदा है जिससे लोगों की किडनी और लीवर खराब हो रहा है तो इस तरह की शिकायत पर काम करने और इस बाबत जानकारी लेने से केजरीवाल को क्या समस्या हो रही है.
दिल्ली जल बोर्ड के अधिकारों में क्यों हस्तक्षेप कर रहे हैं एलजी? इसमें दखल अंदाजी की बात कहां से आ गई वो दिल्ली के एलजी हैं, यह यूनियन टेरिटरी है वो दिल्ली के मुख्य प्रशासक हैं, ये कोई पूर्ण राज्य नहीं है. उन्होंने आगे कहा कि केजरीवाल को यह समझ लेना चाहिए कि यदि वो दिल्ली को नहीं संभाल पा रहे हैं तो एलजी को क्या समस्या है. 
बिधूड़ी ने आगे कहा कि जो जल बोर्ड (Delhi JAL Board) के चेयरमैन रहे हैं वो जेल चले गए हैं इसलिए विभाग में एनारकी (Anarchy) पैदा हो गई है. जल मंत्री हैं नहीं और लोग आकर शिकायत कर रहे हैं कि उनको पानी नहीं मिल रहा है और जो पानी मिल रहा है वो गंदा है. इन शिकायतों के चलते ही दिल्ली के एलजी ने लोगों की चिंता करते हुए जल बोर्ड के अधिकारियों को निर्देश दिया है तो यह हम लोगों के लिए खुशी का विषय है.



Source link

Related Articles

Stay Connected

1,271FansLike
1FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles