पटना: एनआईए ने चार जगहों पर मारे छापे, हथियार और नक्सल साहित्य बरामद 



{“_id”:”617ae1a2c44c0e2e7974d44c”,”slug”:”nia-conducts-searches-in-bihar-in-connection-with-seizure-of-arms-from-cpi-maoist-operative”,”type”:”story”,”status”:”publish”,”title_hn”:”पटना: एनआईए ने चार जगहों पर मारे छापे, हथियार और नक्सल साहित्य बरामद “,”category”:{“title”:”City & states”,”title_hn”:”शहर और राज्य”,”slug”:”city-and-states”}}

पीटीआई, पटना
Published by: Amit Mandal
Updated Thu, 28 Oct 2021 11:27 PM IST

सार
आरोपी के शीर्ष माओवादी नेताओं के साथ संबंध थे और वह बिहार, झारखंड और अन्य राज्यों में आतंकवादी गतिविधियों को आगे बढ़ाने के लिए हथियार दे रहा था। 

NIA (सांकेतिक तस्वीर)
– फोटो : सोशल मीडिया

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

प्रतिबंधित भाकपा (माओवादी) संगठन के एक सदस्य से हथियार और गोला-बारूद जब्त करने के मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने गुरुवार को बिहार के पटना जिले के दानापुर और चैनपुर इलाकों में चार स्थानों पर तलाशी ली। एनआईए के एक अधिकारी ने बताया कि बिहार के जहानाबाद के भाकपा (माओवादी) के कार्यकर्ता परशु राम सिंह के पास से हथियार और गोला-बारूद और अन्य आपत्तिजनक सामग्री और दस्तावेज जब्त करने के संबंध में जून में मामला दर्ज किया गया था।उन्होंने कहा कि आरोपी के शीर्ष माओवादी नेताओं के साथ संबंध थे और वह बिहार, झारखंड और अन्य राज्यों में आतंकवादी गतिविधियों को आगे बढ़ाने के लिए हथगोले, विस्फोटक व अन्य हथियार और गोला-बारूद उपलब्ध कराकर प्रतिबंधित संगठन की मदद कर रहा था। अधिकारी ने बताया कि जिन परिसरों की तलाशी ली गई उनमें आरोपी और उसके साथियों के घर और वर्कशॉप भी शामिल हैं। उन्होंने बताया कि यहां से हथगोले के हिस्से, गोला-बारूद, जिंदा कारतूस, आपत्तिजनक दस्तावेज, नक्सल साहित्य और डिजिटल उपकरण जब्त किए गए। 

विस्तार

प्रतिबंधित भाकपा (माओवादी) संगठन के एक सदस्य से हथियार और गोला-बारूद जब्त करने के मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने गुरुवार को बिहार के पटना जिले के दानापुर और चैनपुर इलाकों में चार स्थानों पर तलाशी ली। एनआईए के एक अधिकारी ने बताया कि बिहार के जहानाबाद के भाकपा (माओवादी) के कार्यकर्ता परशु राम सिंह के पास से हथियार और गोला-बारूद और अन्य आपत्तिजनक सामग्री और दस्तावेज जब्त करने के संबंध में जून में मामला दर्ज किया गया था।

उन्होंने कहा कि आरोपी के शीर्ष माओवादी नेताओं के साथ संबंध थे और वह बिहार, झारखंड और अन्य राज्यों में आतंकवादी गतिविधियों को आगे बढ़ाने के लिए हथगोले, विस्फोटक व अन्य हथियार और गोला-बारूद उपलब्ध कराकर प्रतिबंधित संगठन की मदद कर रहा था। 

अधिकारी ने बताया कि जिन परिसरों की तलाशी ली गई उनमें आरोपी और उसके साथियों के घर और वर्कशॉप भी शामिल हैं। उन्होंने बताया कि यहां से हथगोले के हिस्से, गोला-बारूद, जिंदा कारतूस, आपत्तिजनक दस्तावेज, नक्सल साहित्य और डिजिटल उपकरण जब्त किए गए।
 



Source link

Related Articles

Stay Connected

1,271FansLike
1FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles